सन् 2000 में भारत ने विश्व के तीनों सबसे बड़े ब्यूटी पेजेंट के ताज पर कब्जा कर इतिहास रचा था। अठारह साल पहले, लारा दत्ता-मिस यूनिवर्स, प्रियंका चोपड़ा-मिस वर्ल्ड और दीया मिर्जा-मिस एशिया पैसिफ़िक बन भारत को सौंदर्य जगत में तिहाई जीत दिलाई थी।

Image credit : Indian express

हालांकि तीनों सौंदर्य की रानीयों का दुनिया को चौंका देने वाला यह विश्व विजय उल्लेखनीय था मगर लारा दत्ता सिर्फ मिस यूनिवर्स ही नहीं बनी बल्कि उन्होने अपने नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज किया जिसे आज तक कोई नहीं तोड़ पाया हैं।

लारा, सुष्मिता सेन के बाद इस प्रतिष्ठित खिताब को जीतने वाली दूसरी भारतीय बनी थी। सुष्मिता ने 1994 में पेजेंट जीता था।

उस साल, लारा के मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया था। उन्हें लगभग सभी जजों से 9.99 का उत्तम स्कोर मिला था। उन्होंने स्विमिंग सूट प्रतियोगिता में उच्चतम स्कोर हासिल किया था। प्रतियोगिता में उनका अंतिम इंटरव्यू स्कोर मिस यूनिवर्स के इतिहास में किसी भी श्रेणी में उच्चतम व्यक्तिगत स्कोर था।

इस जीत ने उन्हें 2001 में संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या फंड (यूएनएफपीए) के गुडविल एम्बेसडर के रूप में नियुक्ति भी दिलाई थी। इसके अलावा, लारा ने 1997 में मिस इंटरकांटिनेंटल का खिताब भी अपने नाम किया था।

लारा, हिन्दी फिल्मों की भी एक प्रसिद्ध अभिनेत्री हैं। फ़िल्म ‘अंदाज़’ से उन्होने अपने फिल्मी करीयर की शुरुआत की थी जिसके बाद उन्होनें मस्ती, नो एन्ट्री, काल, भागम भाग, पार्टनर, हाउसफुल, और चलो दिल्ली जैसे सफल फ़िल्मों की हैं। लारा के नाम एक फिल्मफेयर अवार्ड भी हैं। 2011 में लारा ने टेनिस खिलाड़ी महेश भूपति से शादी की थी।

Facebook Comments